खबर और विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें। मो0नं0-6394818297

बाराबंकी। पारिवारिक कलह के चलते पति-पत्नी में हुआ विवाद कोतवाली तक पहुंच गया। जब पति पर कार्रवाई की बात आई तो पत्नी ने मना करते हुए सुलह कर लिया। दूसरे दिन सुबह उसने फांसी लगा ली। सास ने समय रहते देख लिया और आसपास के लोगों की मदद से फंदे से उतारकर अस्पताल में भर्ती कराया है। कोतवाली के कंदरौला निवासी मुकेश कुमार का विवाह चार वर्ष पूर्व छंदवल गांव निवासी दीनदयाल की पुत्री शीला देवी से हुआ था। घरेलू कलह के चलते पति-पत्नी में मंगलवार को कहासुनी हुई तो मामला कोतवाली तक पहुंच गया। पुलिस ने पति पर दंडात्मक कार्रवाई की बात कही। पत्नी ने मना कर दिया और सुलह-समझौता कर रात तक घर वापस आ गई। बुधवार सुबह शीला देवी व उनकी सास घर पर थी और अन्य सभी खेत में थे। तभी शीला ने फंदा लगा लिया, तब तक सास ने बहू को देखकर चिल्लाना शुरू कर दिया। आसपास के लोग आकर तत्काल शीला को नीचे उतारा। बेहोशी हालत में आनन-फानन परिवारजन उसे लेकर सीएचसी पहुंचे, जहां से उसे जिला अस्पताल फिर लोहिया अस्पताल लखनऊ रेफर कर दिया गया। उपनिरीक्षक राजेश सिंह यादव ने बताया कि पीड़िता का उपचार चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *