लखनऊ। राजधानी समेत 40 से अधिक जिलों में गुरुवार से मानसून फिर रफ्तार पकड़ेगा। मौसम विभाग ने गरज-चमक के साथ भारी वर्षा और वज्रपात की चेतावनी जारी की है। वहीं, पूर्वांचल के एक दर्जन जिलों में अत्यधिक भारी बरसात का अलर्ट है। लखनऊ में अगले तीन दिन तक रुक-रुककर बारिश होगी। बुधवार को हल्की धूप निकलने से उमस ने परेशान किया। दिन का पारा 3.8 डिग्री की वृद्धि के साथ 37.9 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। न्यूनतम तापमान में भी 2.8 डिग्री वृद्धि के साथ 28.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वरिष्ठ मौसम वैज्ञानकि अतुल कुमार सिंह ने बताया कि पिछले दो-तीन दिनों से लखनऊ समेत आसपास के जिलों में मानसून थोड़ा कमजोर हुआ था, लेकिन गुरुवार से मौसम फिर बदलेगा और राजधानी के साथ लगभग 45 जिलों में भारी बारिश के साथ वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गई है। उन्होंने कहा, राजधानी में अगले तीन दिन तक बरसात का दौर जारी रह सकता है। 15 जुलाई के बाद मानसून और जोर पकड़ेगा।

बांदा, चित्रकूट, कौशांबी, प्रयागराज, सोनभद्र, मिर्जापुर, चंदौली, वाराणसी, संत रविदास नगर, देवरिया, गोरखपुर, कुशीनगर, महाराजगंज, सिद्धार्थनगर, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती और आसपास के जिलों में अत्यधिक बरसात का अलर्ट है।

इसके अलावा फतेहपुर, प्रतापगढ़, संत कबीर नगर, बस्ती, बहराइच, लखीमपुर, सीतापुर, कानपुर देहात, कानपुर नगर, उन्नाव, लखनऊ, बाराबंकी, रायबरेली, अमेठी, सुलतानपुर, अयोध्या, अंबेडकरनगर, मथुरा, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा, औरैया, जालौन, हमीरपुर, गाजीपुर, आजमगढ़, मऊ, बलिया, हरदोई, कन्नौज, अलीगढ़, हाथरस, कासगंज, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर और आसपास के जिलों में भारी बारिश के साथ वज्रपात की चेतावनी जारी की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *