आजमगढ़ जिले के तहबरपुर में ग्राम पंचायत अधिकारी सहित सफाई कर्मचारी पर हुए फर्जी मुकदमे को निरस्त करने की मांग को लेकर सफाई कर्मचारियो ने डीपीआरओ को सौंपा ज्ञापन। बतादे कि बीते 27 सितम्बर को तहबरपुर विकास खण्ड परिसर सभागार में आयोजित साप्ताहिक बैठक के दौरान एक वकील से हुए विवाद के बाद ग्राम पंचायत अधिकारी सहित सफाई कर्मचारी के विरूद्ध फर्जी तरीके से मुकदमा दर्ज करा दिया गया। इसको लेकर एक तरह जहां ग्राम पंचायत अधिकारी फर्जी मुकदमो को वापस लेने के लिए आन्दोलनरत है तो वहीं सफाई कर्मचारी के खिलाफ दर्ज हुए फर्जी मुकदमें की निष्पक्ष जांच कराकर मुकदमा निरस्त कराने की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ भी विरोध में उतर आये है। शुक्रवार को दोपहर तीन बजे के करीब सफाई कर्मचारियो का एक प्रतिनिधिमण्डल डीपीआरओ कार्यालय पहुंच ज्ञापन सौंपा और मांग किया कि जल्द से जल्द निष्पक्ष जांच कराकर मुकदमे को निरस्त किया जाय। इस दौरान मीडिया से बातचीत में सीपी यादव ने बताया कि जिस सफाई कर्मचारी के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया उसको पता नहीं था, बाद में पता चला कि उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है। तो वहीं पीड़ित सफाई कर्मचारी ने बताया कि वकील से उनका कोई झगड़ भी नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *