अतरौलिया। बता दे कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 के प्रमाणीकरण में आजमगढ़ मंडल में नगर पंचायत अतरौलिया एवं माहुल ने भी जीएफसी स्टार रेटिंग में वन स्टार पाया है। जबकि महाराजगंज, जीयनपुर, बिलरियागंज तथा अजमतगढ़ को ओडिएफ में डबल प्लस भी मिला है। शेष निकायों को ओडिएफ प्लस मिला है। बताते चलें कि स्वच्छता अभियान के तहत होने वाली साफ सफाई तथा कूड़ा प्रबंधन को लेकर भारत सरकार द्वारा चयनित क्वालिटी काउंसिल आफ इंडिया द्वारा सर्वे किया जाता है जिसमें अच्छा कार्य करने वाली नगर पालिकाओं तथा नगर पंचायतों को स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत प्रमाणीकरण किया जाता है और यही प्रमाणीकरण के नंबर स्वच्छता सर्वेक्षण में दिए जाते है। उसी के आधार पर जिलों को रैकिंग मिलती है। आज़मगढ़ जिलें में 3 नगर पलिका 13 नगर पंचायत है। दिपावली से पूर्व जिले के मार्टिनगंज, जहनागंज, बूढनपुर को छोड़कर सभी नगर निकायों / पंचायतों के स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत जीएफसी स्टार रेटिंग तथा ओडिएफ का सर्वे किया गया था। जिसमें देश में उत्तर प्रदेश की कुल 56 निकाय जीएफसी स्टार रेटिंग में लिए गए है।

अपर जिलाधिकारी आजाद भगत सिंह (वि०/रा०) प्रभारी अधिकारी स्थानीय निकाय आजमगढ़ तथा डीपीएम नगरीय सन्त कुमार ने बताया कि अगर बात आजमगढ़ मंडल मे आने वाले मऊ, बलिया, आजमगढ़ की हो तो उसमें आजमगढ़ से ही 2 नगर पंचायत ने बाजी मारी है।जिसमे अतरौलिया, माहुल को जीएफसी स्टार रेटिंग में वन स्टार मिला है। इसके अलावा ओडिएफ में जिले की दूसरी निकायों निजामाबाद, सरायमीर, अतरौलिया, माहुल, फूलपुर, आजमगढ़, मुबारकपुर, को सिंगल प्लस मिला है एवं मेहनगर, कटघर लालगंज को ओडिफ प्रमाण-पत्र मिला है। इन प्रमाणीकरण के नंबर 11 जनवरी को आने वाले सर्वेक्षण रैंकिंग में जोड़े जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *