खबर और विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें। मो0नं0-6394818297

सीतापुर। पाल्हापुर में संपत्ति विवाद में एक ही परिवार के छह सदस्यों की हत्या के बाद अब सकरन के मुर्थना में गुरुवार रात दो बेटों ने पिता की लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी। वारदात की वजह पेड़ों की बिक्री से मिले 24 हजार रुपये के बंटवारे को लेकर विवाद बताई जा रही है। घटना को दबाने के लिए परिवारजन शव का अंतिम संस्कार भी करने जा रहे थे, लेकिन इससे पहले पुलिस पहुंच गई। मां तहरीर देने के लिए थाने पहुंच गई हैं। आरोपित पुलिस की हिरासत में हैं। सकरन के मुर्थना गांव में रामऔतार ने छोटे बेटे ओमकार की शादी में लिए उधार को चुकाने के लिए यूकेलिप्टिस के पेड़ 24 हजार रुपये में बेचे थे। गुरुवार रात पैसों के बंटवारे को लेकर रामऔतार की बड़े बेटे पप्पू और मझले राजू से कहासुनी होने लगी। बात बढ़ी तो पप्पू व राजू आपा खो बैठे। दोनों ने लाठी-डंडों से पिता की पिटाई शुरू कर दी। लगातार किए प्रहारों से रामऔतार की मौके पर ही मौत हो गई। छोटा बेटा घर पर नहीं था। वह मजदूरी करने लखनऊ गया था। घटना को परिवारजन ने दबाने की कोशिश की। उधर, इलाके में इतनी बड़ी घटना होने के बाद सकरन पुलिस भी नहीं सक्रिय हुई। ग्रामीणों की ओर से सुबह सूचना मिलने पर पुलिस को घटना की जानकारी हो पाई।

घटना होने के बाद रामऔतार का परिवार एकदम खामोश हो गया। गांव के लोगों को भी घटना की जानकारी नहीं हो सकी। सुबह जब शव के अंतिम संस्कार की तैयारी होने लगी तो ग्रामीणों ने पुलिस को फोन किया। डायल 112 मौके पहुंची। पुलिस ने शुरुआती जांच करके थानाध्यक्ष सकरन दिग्विजय पांडेय को जानकारी दी। वह भी मौके पर पहुंच गए और पप्पू व राजू को हिरासत में ले लिया।

पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र ने कहा कि दो बेटों ने डंडों से वार करके पिता को मार डाला है। चुपके से बेटे पिता का अंतिम संस्कार करने जा रहे थे। इससे पहले पुलिस पहुंच गई और आरोपितों को हिरासत में ले लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *