अधिकारी ने कहा अस्थाई रास्ते का होगा निर्माण


मूसानगर। क्षेत्र में हुई बारिश के कारण मनकी संपर्क मार्ग में बने सर्विस रोड कुछ ही पानी में ढह जाने के चलते लोगों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उक्त जगह में बन रही ऊँची कोठी वाले बड़े पुल निर्माण के कारण पीडब्ल्यूडी की बड़ी लापरवाही के चलते आने जाने के लिए साइड से सर्विस रोड सही से ना बनाए जाने को लेकर जो पहली बारिश के पानी के बहाव से कट गया है। वहीं जो खुदाई की मिट्टी के ढेर लगे पड़े है वह मिटटी बह कर रास्ते में जमा हो रही है। जो बारिश के दिनों में हादसों को दावत दे रही है। कई अनहोनी घटनाएं भी हो चुकी है हाल ही में कुछ दिन पहले किसान का ट्रैक्टर नाले में जा गिरा था जिस किसी प्रकार की जन हानि नहीं हुई थी ग्रामीण फूलसिंह, रामशंकर, रामकेश,अर्जुन सिंह, सुजीत पाल आदि ने बताया कि मनकी संपर्क मार्ग में बन रहे ऊंची कोठी वाले पुल के कारण आने जाने के लिए सर्विस सही से ना बनाए जाने के चलते कच्चा मिट्टी का सर्विस रोड बारिश से उसका किनारे का एक हिस्सा पानी में बह गया। जिससे आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। रास्ते के किनारे का हिस्सा बहने के कारण रास्ता सकरी हो गई है जिससे वाहनों को भी निकलने में समस्या उत्पन्न हो गई है। ऊपर नीचे ढालदार रास्ते में मिट्टी जमा होने के कारण फिसलन हो गई है। जिसमें कई दुपहिया वाहन फिसलकर गिर चुके है। जबकि यह मनकी कुरारा मार्ग जो कानपुर नगर कानपुर देहात से बुंदेलखंड जनपद हमीरपुर को जोड़ता है अगर ऐसे ही बारिश हुई तो पूरी पुलिया ढह जायेगी।
वहीं संपर्क मार्ग नगर पंचायत मूसानगर के बार्ड नं 10 बालाजी धाम से होकर मुगल रोड को जोड़ता है जो क्षतिग्रस्त हो गई है। क्योकि टोल बचाने के चक्कर में भारी वाहन व ओवर लोड ट्रैक्टर ट्राली लगातार इस रुट से निकलते है।
वही ग्रामीणों का कहना है कि जनपद कानपुर देहात नगर पंचायत मूसानगर में स्थित बालाजी धाम जहां पर जिले से लेकर कई प्रदेशों के दर्शनार्थी दर्शन के लिए आते जाते हैं रिवाइन देवी मंदिर से मनकी संपर्क मार्ग में बन रहे ऊंची कोठी वाले पुल निर्माण में देरी के कारण आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उक्त मार्ग में 3.60 करोड़ की लागत से तीन स्पैन वाले ऊंची कोठी पुल का निर्माण एक साल से अधिक से हो रहा है। पुल निर्माण इकाई ने पुरानी पुलिया के आसपास मिट्टी के ढेर लगा दिये है जिससे उक्त मिट्टी बारिश के दिनों में नीची पुलिया में आकर जमा हो रही है और फिसलन के कारण लोगों का पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। गर्मी के दिनों में धूल के गुबार से तो बारिश में फिसलन से समस्या कैसे हो निस्तारण।
इस बावत दिनेश कुमार भटिया सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग निर्माण खण्ड एक ने बताया कि आवागमन के लिए अस्थाई रास्ता का निर्माण कराया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *