आजमगढ़ जिले के जिला महिला अस्पताल में मिशन शक्ति सप्ताह के तहत नवजात शिशु व उनकी मां को पुरस्कात भेंट कर किया गया सम्मानित। बतादे कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन शक्ति के चौथे चरण का शुभारंभ कर दिया। इस चरण में योगी सरकार ने महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर अहम कदम उठाए हैं। महिलाओं को प्रदेश में संचालित हो रही स्वास्थ्य सुविधाओं और योजनाओं से अवगत कराने के साथ ही विभिन्न रोगों में निशुल्क परामर्श और इलाज उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है। कुपोषण और एनीमिया जैसी समस्याओं से बचाने के लिए बेटियों को नियमित रूप से दवाएं एवं पोषण उपलब्ध कराया जाएगा। जिला महिला अस्पताल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करने पहुंचे एसीएमओ डा0 उमाशरण पाण्डेय ने बताया कि सरकार अभियान चलाकर महिलाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करते हुए उन्हें आरोग्य बनाने की दिशा में तेजी से कार्य कर रही है। चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के तहत जन जागरुकता रैलियों में प्रत्येक स्तर पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मियों के द्वारा पूर्ण सहयोग एवं प्रतिभागिता सुनिश्चित की जाएगी। जन जागरुकता रैलियों में स्वास्थ्य विभाग द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों और योजनाओं के लिए विकसित की गई, आईईसी का प्रयोग एवं प्रदर्शन किया जाएगा। महिलाओं एवं बालिकाओं हेतु संचालित की जा रही योजनाओं और कार्यक्रमों के विषय में जागरूकता एवं परामर्श सेवाएं प्रदान की जाएंगी। यही नहीं, ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित रैलियों में आशा एवं एएनएम इत्यादि के द्वारा प्रतिभागिता एवं महिलाओं और बालिकाओं के लिए संचालित स्वास्थ्य कार्यक्रमों और योजनाओं के विषय में जागरूकता एवं काउंसिलिंग का संचालन किया जाएगा। महिलाओं और बालिकाओं के लिए संचालित स्वास्थ्य कार्यक्रमों और योजनाओं के विषय में जागरूकता और परामर्श प्रदान किया जाएगा। इनमें प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, ई0 रूपी वाऊचर सेवा, ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण दिवस, जननी सुरक्षा योजना, जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम, सुरक्षित प्रसव हेतु प्रसव इकाईयों में वृद्धि, जटिल प्रसव हेतु प्रथम सन्दर्भन इकाईयों की स्थापना और गर्भवती महिलाओं हेतु 102 एम्बुलेंस सेवा प्रमुख हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *