आजमगढ़| क्लबफुट को खत्म करने के लिए अनुष्का फाउंडेशन ने जिला अस्पताल में क्लब्फुट क्लिनिक शुरू किया है l मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आई एन तिवारी ने बताया कि अनुष्का फाउंडेशन गैर-लाभकारी संगठन जो भारत में क्लबफुट को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है। जिला अस्पताल में प्रत्येक शुक्रवार को कमरा नंबर 4 में क्लब्फूट क्लिनिक में बच्चो का निशुल्क इलाज किया जाता है।आरबीएसके के साथ साझेदारी में, यहां आर्थोपेडिक डॉक्टरों द्वारा इलाज किया जाता है।क्लबफुट एक जन्मजात विकृति है जो भारत में 800 नवजात शिशुओं में से 1 को प्रभावित करता है। इलाज न किए जाने या अधूरा इलाज दिए जाने से बच्चे गंभीर रूप से प्रभावित हो सकते हैं और उन्हें आजीवन विकलांगता का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि, उचित उपचार से क्लबफुट का पूरी तरह से इलाज संभव है और आजीवन विकलांगता से आसानी से बचा जा सकता है l और प्रभावित लोगों के जीवन को बदलने में मदद मिल सकती है। क्लबफुट को खत्म करने के लिए अनुष्का फाउंडेशन ने अपने क्लबफुट कार्यक्रम को लागू करने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के साथ साझेदारी की।

कार्यक्रम समन्वय प्रिंस दुबे एवं ब्रांच मैनेजर भूपेश सिंह ने बताया कि क्लबफुट और उनके उपचार कार्यक्रम के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) योजना, आशा कार्यकर्ताओं, स्थानीय स्वास्थ्य केंद्रों और अन्य चिकित्सा कर्मचारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है।
आरबीएसके के सहयोग से उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में परिचालन क्लबफुट क्लीनिक स्थापित किए गए हैं। ऐसा ही एक क्लिनिक उत्तर प्रदेश के आजमगढ जिले में स्थापित किया गया है।
उनके कार्यक्रम मॉडल में प्रमुख हस्तक्षेप बिंदुओं में से एक क्लबफुट उपचार की पोंसेटी पद्धति में आर्थोपेडिक डॉक्टरों और कास्टिंग तकनीशियनों के लिए आयोजित चिकित्सा प्रशिक्षण है। इसमें प्रथम चरण में कास्टिंग दूसरे चरण में टेनोटॉमी और तीसरे चरण में बच्चो को पांच साल तक जूते और बार दिए जाते है।
अनुष्का फाउंडेशन देश के हर जिले में क्लबफुट कार्यक्रम लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है ताकि हर बच्चे को इलाज तक पहुंच मिल सके। एसबीआई फाउंडेशन जैसे सरकारी हितधारकों और भागीदारों के साथ हाथ मिलाकर, कार्यक्रम को कुशलतापूर्वक लागू करना और यह सुनिश्चित करना है कि क्लबफुट के साथ पैदा होने के कारण कोई भी बच्चा विकलांग न रहे।
आज क्लिनिक में डॉक्टर विनोद कुमार, अनुष्का फाउंडेशन के ब्रांच मैनेजर भूपेश सिंह और प्रिंस, अभिषेक और कास्टिंग टेक्निशन संतोष,सोनू,पप्पू मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *