खबर और विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें। मो0नं0-6394818297

दिल्ली। उत्तम नगर इलाके के शिव विहार में नशे का कारोबार करने वाले लोगों ने शनिवार रात को हैवानियत की हदें पार करते हुए युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी। हत्या करने से पहले उसके गुप्तांग को बाइक से कुचल दिया गया और जख्मों पर नमक छिड़क दिया गया। जब दर्द से युवक चिल्लाने लगा तो उसके हाथ-पैर बांधकर मुंह में पेशाब कर दिया। हैरानी की बात है कि यह सारी हैवानियत गली में हुई और किसी ने युवक को बचाने की भी कोशिश नहीं की। युवक की पहचान शिव विहार के करण के रूप में हुई है। पुलिस ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर नैना उर्फ मीना व रोहित को हिरासत में लिया है। पुलिस और आरोपितों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही है।

करण के भाई निशांत ने बताया कि वह मूल रूप से मध्य प्रदेश के छत्तरपुर जिले के रगोली गांव के रहने वाले हैं। उसके भाई करण थोड़ा मानसिक रूप से बीमार था। उसे जल्दी से गुस्सा आ जाता था, इसलिए कई बार वह लड़ाई झगड़ा करता था।

कुछ महीने पहले इलाके में स्मैक बेचने वाली महिला मीना के साथ भी उसका झगड़ा हो गया था। उस पर दो आपराधिक मामले दर्ज होने की वजह से उसे गांव भेज दिया गया था। उसके केस की कोर्ट में तारीख थी, इसलिए उन्होंने करण को बीते दिनों उत्तम नगर बुला लिया था। इस दौरान मीना को पता लग गया था कि करण यहां आया हुआ है।

शनिवार रात को जब करण घर पर बैठा था तो दर्जनभर लोगों के साथ मीना वहां पर आई। सभी के पास डंडे या चाकू थे। वह अचानक से करण के साथ मारपीट करने लगे। वह इतनी बुरी तरह से उससे मारपीट कर रहे थे कि किसी पड़ोसी ने भी करण को बचाने की हिम्मत नहीं की।

आरोपित कह रहे थे कि कोई भी बीच में आएगा तो उसे भी ऐसे ही मारेंगे। करण से पहले मारपीट की और फिर उसके गुप्तांग पर बुलेट बाइक चढ़ा दी और पेट से होते हुए गर्दन के पास से बाइक का पहिया उतारा। मारपीट के दौरान करण के शरीर पर जख्म हुआ तो उसमें नमक-मिर्च भरी गई। फिर हाथ-पैर बांध दिए गए और उसके मुंह में पेशाब करते रहे। इसके बाद पुलिस करण को अस्पताल में लेकर गई तो डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सूत्रों के अनुसार, पुलिस ने इस मामले में मीना व रोहित नामक दो लोगों को हिरासत में लिया है। मीना उर्फ नैना इलाके में स्मैक बेचती है। पुलिसकर्मी जब उसे पकड़ने के लिए जाते थे तो वह पुलिस कर्मियों पर ही झूठे आरोप लगा देती थी।

पूछताछ के दौरान मीना ने बताया कि करीब छह महीने पहले करण ने उसके घर से मोबाइल व अन्य सामान चोरी किया था। इसी को लेकर उससे मारपीट की गई। गुस्साए स्वजन ने रविवार शाम को प्रदर्शन कर आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *